🙏❤️#मुझे_जानने_वाला#❤️🙏

कहीं पर कोई तो होगा,#मुझे भी जानने वाला..!

नहीं #कोई अगर मुझको,
यहाँ #पहचानने वाला..!
कहीं पर #कोई तो होगा,मुझे भी #जानने वाला..!!

अभी तूफां में क़श्ती है,

मंज़िल #दूर है लेकिन,
खड़ा #साहिल पे होगा,हाथ मेरा #थामने वाला..!!

चुरा लें हमसे सब नज़रें,

छुपा लें अपना चेहरा भी,

नहीं #सूरत किसी की,बेवज़ह मैं #ताकने वाला..!!

सिला दूँगा #मोहब्बत का,
लगा कर जान की #बाज़ी,
नहीं #खैरात में हूँ दिल,किसी का #माँगने वाला..!!

मेरे #आगोश में आ करके,
जो भी #मुस्कुरायेगा,

वही होगा मेरी हर ख्वाहिशों,को #मानने वाला..!!

पड़ी मेरे शहर की #गलियां,
तो ‘वीरान’ हैं सारी..!

क्या? रहता है गली में तेरी,कोई #चाहने वाला..!!

कहीं पर कोई तो होगा इस वीरान सी दुनिया में मुझे अपने दिल में रखने वाला!! ❤️❤️🙏🙏

Advertisement

One thought on “🙏❤️#मुझे_जानने_वाला#❤️🙏

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.